For Advertisements call +91-9536862427

डालर-रूपये का असंतुलन देश के लिए हानिकारक

Raghwendra Nagar's picture

देशवासिओं मात्र एक ईस्टइंडिया कम्पनी ने देश को गुलाम बना दिया ,अब १३०० से भी अधिक विदेशी कम्पनियां है क्या हाल होगा ? एक डालर =६० रूपये कहाँ पहुँचगये हम ?सीधा अर्थ है हम आर्थिक गुलामी की ओर बढ़ रहें है | इससे मुक्ति का उपाय स्वदेशी अपनाओ है जो कोई नहीं मन रहा ,मात्र कोका कोला-पेप्सी छोड देने मात्र से एक दिन में करोंड़ों डालर बच जायेंगे |

पहले स्वतन्त्रता संग्राम सेनानी ऐसा ही कार्यक्रम चलाते थे ,उनका अनुसरण जनसंघ हिंदू महासभा , भा.ज.पा. ने किया अब सब भूल गये |आईये फिर से स्वदेशी अपनाने का नारा दें उठना -बैठना -नहाना -धोना -चलना -फिरना -खाना -पीना -रहना -सोना मै स्वदेशी वस्तुओं का प्रयोग करें |

युवाओं पर इसका सीधा असर होना देश हित मै होगा तब देखिए डालर कितना नीचे आ जाता है |